ज्ञात हो 15 अगस्त को दिन में सहरसा जिले के महिषी थाना क्षेत्र में कुख्यात अपराधी अजीत यादव की हत्या कर दी गई । जिसमे मृतक के भाई के फर्द व्यान पर 8 नामजद और 5 अज्ञात पर मुकदमा दर्ज किया गया है। इसमें कथित तौर पर जलोपा के प्रदेश महासचिव सुमन सौरभ @ सुमन वर्मा को भी आरोपी बनाया गया है। इस संबंध में सुमन सौरभ ने हमारे संवाददाता को सूचित किया कि उन्हें जबरन साजिश के तहत फंसाया जा रहा है, घटना के वक्त वो पार्टी कार्यालय में झंडोतोलन कार्यक्रम में थे। उनका इस घटना से कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि पूर्व में भी वो तत्कालीन थानध्यक्ष श्री राजमणि के भ्रष्ट आचरण का पर्दाफाश किया था, कई पुलिस अधिकारियों का काला चिठ्ठा खुल ना जाए इसी वजह से राजनीतिक रंग दे कर उन्हें पुलिस अधिकारियों ने फसा दिया है। जो सरासर अन्याय और अनैतिक है। इसलिए उन्होंने बिहार राज्य मानवाधिकार आयोग का दरवाजा खटखटाया है और शिकायत दर्ज करा कर कई साक्ष्य भी सौंपे है। सुमन सौरभ ने ये भी बताया कि इंसाफ के लिए वो सुप्रीम कोर्ट तक जाएंगे पर दोषी को सजा दिलवा कर साजिश का पर्दाफाश करेगें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here