जनतांत्रिक लोकहित पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष सत्य प्रकाश नारायण के नेतृत्व में आज वर्चुअल मीटिंग हुई जिसमें मुख्य रुप से पार्टी के वरिष्ठ पदाधिकारी राष्ट्रीय महासचिव कुमार प्रिय रंजन, प्रदेश महासचिव तनुज श्रीवास्तव, प्रदेश महासचिव सुमन सौरभ, सहरसा के पार्टी जिला अध्यक्ष अशोक कुमार, जिला उपाध्यक्ष प्रमोद मिश्रा, सिमरी बख्तियारपुर प्रखंड अध्यक्ष जिवेश सिंह सहित अन्य पदाधिकारी ने भाग लिया।
प्रदेश महासचिव सुमन सौरभ ने बताया की सुशांत सिंह राजपुत की मर्डर केस की CBI से जांच की मांग पहले ही कर चुकी है लेकिन वर्तमान परिस्थिती को देखते हुए, जनतांत्रिक लोकहित पार्टी सुशांत सिंह राजपुत के मर्डर केस की निष्पक्ष जांच सीबीआई के वरिष्ठ पदाधिकारी एवं उच्चतम न्यायलय के देखरेख में कराने की मांग करती हैl साथ ही साथ देश की शान रहे सुशांत सिंह राजपूत के याद में सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर कोसी क्षेत्र में अथवा सुशांत सिंह राजपुत के गृहजिले में फिल्म शूटिंग रेंज बनाने की मांग करती हैl
ये कोसी क्षेत्र के लोगों के दिलो में बहुत यादगार अनुभव होगा और नए प्रतिभा को किसी नेपोटीज्म का शिकार दोबारा नहीं होना पड़ेगा ।
अगर इस माँग को केंद्र सरकार तथा माननीय नीतीश कुमार जी नजर अंदाज करेंगे तो इसे जनतांत्रिक लोकहित पार्टी चुनौतीपुर्ण रुप में स्वीकार करेगी।
सुशांत सिंह राजपुत के जन्मभूमि तथा कोसी क्षेत्र के प्रति स्नेहपुर्ण भावना के लिये,नीतीश कुमार जी तो कुछ कर नहीं सके,लेकिन उनके जन्मभूमि को अथवा कोसी वासी के दिल और पुरे देश में यादगार बनाने के लिये तथा कोसी क्षेत्र अथवा उनके गृहजिला पूर्णिया के आनेवाले प्रतिभा के मनोबल के लिए प्रतिरूप में सुशांत सिंह राजपुत के यादगार स्वरुप फिल्म शूटिंग रेंज “शुशांत सिंह राजपुत फिल्म शूटिंग रेंज” कोसी क्षेत्र अथवा पूर्णिया घोषणा करने की माँग करती है ।
जिसके लिए सड़क पर जल्द ही आंदोलन शुरू करना पड़ेगा क्यों कि नीतीश जी से शुशांत सिंह राजपुत को न्यायपुर्ण श्रधान्जली मिलने की अथवा अधिकार मिलनें की उमीद भी नहीं की जा सकती है । अगर आंदोलन ही विकल्प है तो आंदोलन भी होगा होगा ,बस आप जनता की सहमति अनिवार्य हैl
वहीं सुमन सौरभ ने बताया की वर्चुअल मीटिंग में सत्य प्रकाश नारायण जी के नेतृत्व में बातचीत बातचीत में नीतीश जी के कार्यशैली से बिहारी अस्मिता शर्मसार होने के विषय पर भी चर्चा हुई ।
उन्होनें बताया की पिछले कुछ दिनों से सुशांत मर्डर केस में बिहार सरकार बिहारी अस्मिता और प्रतिभा को न्याय दिलाने की छद्म लड़ाई लड़ रही हैl यह लड़ाई हमारे कागजी कुमार ने पहले भी कई बार लड़ी है l चाहे वह मामला राजठाकरे के साथ बिहारियों को भगाने को लेकर हुआ हो या फिर राहुल राज मर्डर में आर पार की लड़ाई बिहारी बनाम मराठी को लेकर हो अथवा गुजरात में बिहारी के अपमान की हो,मौन रहकर कुर्सी बचाने की राजनीति के अलावा कुछ नहीं किये हैं ,अब एक मात्र विकल्प है जनता को जगाना ।
उन्होनें आगे कहा की जनतांत्रिक लोकहित पार्टी माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी से, बिहारी आवाम की ओर से, मीडिया बंधु के माध्यम से पुछ्ना चाहती है की बिहारी स्वाभिमान के लिये आपने किया क्या है? दरअसल सच्चाई यह है कि नीतीश कुमार को भाजपा गठबंधन में शामिल करवाने में शुरुआती दिनों के साथी रहे शरद पवार, बाल ठाकरे, उद्धवठाकरे ने बहुत मदद की थी और जिस मदद को वह कभी भूले नहीं है l परंतु बिहार में कुर्सी बचाए रखना है तो एक छद्म लड़ाई बिहारियों को दिखाते रहना है l
कुछ तथ्यपूर्ण बात मैं मीडिया बंधु के माध्यम से जनता के समक्ष रखना चाहता हूँ और अगर सही लगे तो आवाज उठाइए…
(1) सुशांत सिंह के मर्डर होने के कितने दिनों बाद बिहार पुलिस एक्शन लेती है ?
(2) आज सरकार इतनी लाचार है की इनके जवानों को वहां गाड़ी तक नहीं मिलती और एसपी को क्वारंटाइन कर दिया जाता है !
(3) केंद्र और राज्य में भ्रष्टाचारी और हवाहवाई की सरकार है फिर भी दावा करती है की मैने बिहार का मान बढाया है ।
जनतांत्रिक लोकहित पार्टी इस दिखावे की लड़ाई का विरोध करती है तथा सुशांत सिंह मर्डर केस की निष्पक्ष जांच सीबीआई के वरिष्ठ पदाधिकारी के देखरेख में कराने की मांग करती है और कोसी वासी से भी अपील करती है की आप सभी भी अपने उपयुक्त माध्यम से शुशांत के अंत को अनंत बनाने के लिये सुशांत सिंह राजपुत फिल्म शूटिंग रेंज” कोसी क्षेत्र अथवा पूर्णिया में बनाने की मांग करती है। आनेवाले प्रतिभा के मनोबल के लिए सड़क पर जल्द ही आंदोलन शुरू होगा बस आप सभी जनता की सहमति और सहयोग अनिवार्य है l हमारी ताकत बनिए ताकि हम बिहार के लिए लड़ाई लड़ सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here