अपराधीयो का राजनीतिक सांठ गांठ कोई नई बात नही है।उत्तरप्रदेश बिहार में यह ट्रेंड हमेशा से रहा है।पहले अपराधियों को पनाह दिया जाता है।नए नए अपराधियों को अपराध जगत में पैठ बनाने के लिए राजनीतिक पार्टियां फंडिंग करती है,पुलिस की नजरों से बचाने के लिए अपने अपनी शक्तियों का इस्तेमाल करती है।

पूर्व आईएएस अधिकारी ने पूछा ये रिश्ता क्या कहलाता है?

कुछ इसी तरह के आरोप अब उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर लग रहा है।कुख्यात अपराधी विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस पर ताबड़तोड़ फायरिंग हुई जिसमें 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए।

पूर्व IAS अधिकारी सूर्य प्रताप सिंह ने कुख्यात अपराधी विकास दुबे का उत्तर प्रदेश सरकार के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक के साथ फोटो को ट्वीट करते हुए पूछा है की यह रिश्ता क्या कहलाता है?उन्होंने पूछा है की क्या उत्तर प्रदेश के कानून मंत्री ब्रजेश पाठक पर मुकदमा दर्ज कराया जाएगा? क्या उन्हें मंत्रिपरिषद से बर्खास्त किया जाएगा?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here