गलवान घाटी पर हुए हिंसक झड़प और भारत चीन के बीच जारी तनाव में रूस ने दख़ल देने से इंकार कर दिया।RIC की बैठक में रूस के विदेश मंत्री सेरेगई लेरोव ने कहा मुझे नहीं लगता कि भारत और चीन को बाहर से कोई मदद चाहिए। मुझे नहीं लगता कि उन्हें मदद करने की आवश्यकता है, खासकर जब यह देश के मुद्दों पर आता है। वे उन्हें अपने दम पर हल कर सकते हैं।

भारत और चीन की तारीफ करते हुए उन्होंने कहा की दोनों देशों ने शांतिपूर्ण समाधान के लिए अपनी प्रतिबद्धता दिखाई।दोनों देशों के बीच रक्षा अधिकारियों, विदेश मंत्रियों के स्तर पर बैठकें शुरू कीं और दोनों पक्षों में से किसी ने भी ऐसा कोई बयान नहीं दिया जिससे यह संकेत मिले कि उनमें से किसी ने भी गैर-कूटनीतिक तरीके से समाधान के लिए आगे बढ़े हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here